17.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022
Homeराष्ट्रीयकिसान अन्नदाता के साथ-साथ अब ऊर्जादाता भी बने: गडकरी

किसान अन्नदाता के साथ-साथ अब ऊर्जादाता भी बने: गडकरी

– केन्द्रीय मंत्री ने मंडला में किया पांच सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

– प्रदेश सरकार सड़कों का जाल बिछाने के लिए लगातार प्रयासरत : मुख्यमंत्री

मंडला, 7 नवंबर । केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि मध्य प्रदेश में कृषि क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य हुआ है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में मध्य प्रदेश को अनेक बार कृषि कर्मण पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। अब मध्य प्रदेश कृषि उत्पादों का निर्यात भी करने लगा है। उन्होंने कहा कि किसान अन्नदाता के साथ-साथ अब ऊर्जादाता भी बने।

केन्द्रीय मंत्री गडकरी सोमवार को मंडला में पांच सड़क परियोजनाओं के शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मंडला में प्रकृति का निवास है, यह रानी दुर्गावती की भूमि है तथा यहां कान्हा जैसा विश्व प्रसिद्ध राष्ट्रीय उद्यान है। इसलिए आदिवासीजनों के विकास की सर्वोच्च जिम्मेदारी राज्य एवं केंद्र सरकार की है और इस विकास के लिए सड़कें अत्यंत जरूरी हैं। आगामी 2 वर्षों में केंद्रीय राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों से प्राप्त सड़क विकास के प्रस्तावों पर विस्तृत अध्ययन करते हुए योजनाओं को स्वीकृति प्रदान की जाएगी।

मंडला के पुलिस ग्राउंड में में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने मंडला, डिंडोरी एवं जबलपुर जिले की पांच सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उन्होंने देशभर में ऊर्जा के क्षेत्र में परिवहन मंत्रालय द्वारा प्रारंभ की गई नई परियोजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने मध्य प्रदेश में परिवहन के क्षेत्र में इलेक्ट्रिक बसों के संचालन की संभावनाओं पर बात की। उन्होंने कहा कि मंडला, डिंडौरी एवं अन्य जनजातीय क्षेत्रों में बांस के उत्पादन को बढ़ावा दिया जा सकता है। बांस से भविष्य में इथेनॉल का निर्माण होगा, जिससे परिवहन एवं अन्य क्षेत्रों के लिए ऊर्जा पैदा की जा सकेगी। गडकरी ने कान्हा-बालाघाट क्षेत्र में सड़क विकास के लिए नए प्रोजेक्ट को ’गति शक्ति योजना’ में शामिल करने की बात कही।

मंडला-जबलपुर हाइवे की गुणवत्ता से असंतुष्ट, क्षेत्रवासियों से मांगी माफी

उन्होंने मंडला-जबलपुर हाइवे निर्माण की गुणवत्ता को लेकर असंतोष जताया और मंडला एवं आसपास के क्षेत्र की जनता को सड़क के कारण हुई परेशानी के लिए मंच से माफी मांगी। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि राजमार्ग के पुराने कार्य को रिपेयर करें तथा जल्द नया टेंडर जारी करें। गडकरी ने आगामी वर्षों में अलग-अलग परियोजनाओं के माध्यम से सड़क एवं पुलों के विकास के बारे में चर्चा की।

नर्मदा एक्सप्रेस-वे पर अध्ययन जारी

गडकरी ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा भारत के सभी धार्मिक स्थानों तक पहुंचने के लिए लगातार बारहमासी सड़कों का निर्माण जारी है। उन्होंने अमरकंटक से लेकर धार-झाबुआ तक नर्मदा एक्सप्रेस-वे के निर्माण के संबंध में कहा कि इस मार्ग के निर्माण के लिए मंत्रालय द्वारा अध्ययन कार्य जारी है। इस मार्ग के विकास से नर्मदा प्रदक्षिणा करने वाले श्रद्धालुओं को निश्चित रूप से लाभ होगा। उन्होंने मध्य प्रदेश में मेडिकल की पढ़ाई हिंदी भाषा में प्रारंभ करने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सभी विद्यार्थियों की ओर से शुभकामनाएं दी। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि गरीब एवं वंचित वर्गों तक विकास को पहुंचाना हमारा संकल्प है।

प्रदेश सरकार सड़कों का जाल बिछाने के लिए लगातार प्रयासरतः मुख्यमंत्री

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार चारों तरफ सड़कों के जाल बिछाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने मंडला, डिंडोरी एवं जबलपुर क्षेत्र के लिए केंद्र सरकार द्वारा दी गई नई 5 सड़क परियोजनाओं की स्वीकृति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को मंच से धन्यवाद दिया। चौहान ने बताया कि वर्ष 2003 के बाद प्रदेश सरकार द्वारा अब तक 3 लाख किलोमीटर से अधिक की सड़कें बनाई जा चुकी हैं। उन्होंने नर्मदा उद्गम से लेकर धार-झाबुआ तक ’नर्मदा एक्सप्रेस-वे’ बनाए जाने पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि ’नर्मदा एक्सप्रेस-वे’ के दोनों ओर औद्योगिक क्षेत्र के विकास का प्रयास किया जाएगा, जहां स्थानीय उत्पादों पर आधारित उद्योग लगाए जाएंगे।

जनता की तस्वीर एवं तकदीर बदलने का महाप्रयास

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सतत रूप से जनता की तस्वीर एवं तकदीर बदलने का महाप्रयास किया जा रहा है। सरकार विकास के कार्यों में कमी नहीं होने देगी। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी से कान्हा क्षेत्र को मुख्य सड़क मार्गों से जोड़ने तथा नर्मदा सौन्दर्यीकरण के विकास के लिए नए प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान करने का आग्रह किया।

15 नवंबर से लागू होगा ’पेसा एक्ट’

मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस का आयोजन प्रदेशभर में किया जाएगा। इस उपलक्ष्य में प्रदेश में पंचायत से लेकर जिला स्तर तक समारोहपूर्वक अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 15 नवंबर से ही संपूर्ण प्रदेश में सामाजिक समरसता के साथ ’पेसा एक्ट’ भी लागू किया जाएगा। उन्होंने मंडला में मेडिकल कॉलेज की भूमि पूजन के लिए जल्द आगमन की बात भी कही।

कार्यक्रम को केंद्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते और मप्र के लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में पूर्व राज्यसभा सांसद संपतिया उईके, विधायकगण देवसिंह सैयाम, डॉ. अशोक मर्सकोले, नारायण पट्टा, जिला पंचायत अध्यक्ष संजय कुशराम, नगरपालिका अध्यक्ष विनोद कछवाहा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष कमलेश तेकाम, नगरपालिका उपाध्यक्ष अखिलेश कछवाहा, कलेक्टर हर्षिका सिंह, एसपी यशपाल सिंह राजपूत सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, संबंधित अधिकारी एवं बड़ी संख्या में जिलेवासी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments