23.1 C
New Delhi
Friday, October 7, 2022
Homeहरियाणाजीवन में सफलता के लिए तनावमुक्त रहना पहली जरूरत: डा. शिखा खुराना

जीवन में सफलता के लिए तनावमुक्त रहना पहली जरूरत: डा. शिखा खुराना

जीवीएम में स्वच्छता पखवाड़ा के तहत किया गया आर्ट ऑफ लिविंग वर्कशॉप का आयोजन

सोनीपत, 12 सितंबर। जीवीएम गल्र्ज कालेज में स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत मेंटल हाईजिन विषय के तहत आयोजित आर्ट ऑफ लिविंग की कार्यशाला में तनावमुक्ति पर विशेष रूप से बल दिया गया। इस सफल आयोजन पर संस्था के प्रधान डा. ओपी परूथी व प्राचार्या डा. रेनू भाटिया ने बधाई देते हुए कहा कि आज के दौर में तनाव बड़ी समस्या है, जिससे खुद को दूर भी रखा जा सकता है।
जीवीएम की एनएसएस इकाई के साथ एनसीसी तथा यूनिवर्सिटी आउटरिच टीम तथा यूथ रैडक्रॉस इकाई और खेल विभाग के संयुक्त तत्वावधान में तीन दिवसीय (12 से 14 सितंबर) आर्ट ऑफ लिविंग वर्कशॉप का आयोजन किया गया है, जिसका शुभारंभ सोमवार को प्राचार्या डा. रेनू भाटिया तथा संयोजक इकाइयों की प्रभारी प्राध्यापिकाओं ने दीप प्रज्वलित करके किया। वर्कशॉप में मुख्य वक्ताओं के रूप में आयुर्वेद हेयर स्पेशलिस्ट नाड़ी प्रशिक्षक एवं योग विशेषज्ञ आर्ट ऑफ लिविंग की प्रशिक्षक डा. शिखा खुराना तथा आर्ट ऑफ लिविंग की प्रशिक्षक सुमेधा अग्रवाल को आमंत्रित किया गया।
मुख्य वक्ता डा. शिखा खुराना ने अपने संबोधन में विशेष रूप से तनाव को लेकर व्याख्यान दिया। उन्होंने कहा कि जीवन में सफलता के लिए तनावमुक्त रहना पहली जरूरत है। तनाव के साथ किये गये कार्यों में सफलता पर प्रश्नचिन्ह लग जाता है। तनाव हमें आगे नहीं बढऩे देता। तनाव के चलते व्यर्थ की समस्याएं बढ़ जाती है। इसलिए हमें खुद तनाव मुक्त रखना चाहिए। मानसिक तौर पर स्वस्थ रहना अति आवश्यक है, जिसके लिए कई प्रकार के उपाय किये जा सकते हैं।
दूसरी मुख्य वक्ता के रूप में सुमेधा अग्रवाल ने कहा कि जीवन को जीने की कला आनी चाहिए। इसके लिए आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा विशेष रूप से प्रशिक्षण दिया जाता है। हर प्रकार की परिस्थितियों में खुश रहते हुए आगे बढऩे की कला को अपने अंदर विकसित करना चाहिए। जीवन को खुशनुमा बनाने के प्रयास करने चाहिए। इस मौके पर एनएसएस प्रभारी रूचिका विरमानी ने दोनों अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि नि:संदेह कार्यशाला का पूर्ण लाभ छात्राओं को मिलेगा। छात्र जीवन ही नहीं अपितु भविष्य में भी उन्हें आज मिले ज्ञान व प्रशिक्षण का लाभ मिलेगा।
इस अवसर पर एनएसएस प्रभारी रूचिका विरमानी सहित एनएसीसी प्रभारी ले. प्रियंका, यूनिवर्सिटी आउटरिच टीम की प्रभारी मीतू मनोचा, खेल प्रभारी अनु उपस्थित थी।
-डा. रेनू भाटिया
प्राचार्या
जीवीएम गल्र्ज कालेज 

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments