23.1 C
New Delhi
Tuesday, December 6, 2022
Homeहरियाणाविश्व मधुमेह दिवस के दौरान सरकारी हास्पिटल खरखौदा में शिविर का आयोजन

विश्व मधुमेह दिवस के दौरान सरकारी हास्पिटल खरखौदा में शिविर का आयोजन

खरखौदा/सोमपाल सैनी

खरखौदा: शहर के सरकारी हास्पिटल में सोमवार को मनाए गए विश्व मधुमेह दिवस के दौरान एक शिविर का आयोजन कर हास्पिटल में आने वाले मरीजों के मधुमेह की जांच करने के साथ ही उनके रक्तचाप भी जांचा गया।

 इस दौरान एस एम ओ डॉक्टर जितेंद्र कुमार व एस एम ओ डॉक्टर सत्यपाल की अगुवाई में मरीजों को शुगर की बीमारी के कारणों, पहचान और इलाज के बारे में बताने के साथ ही इससे बचने के बारे में भी विस्तार से बताया गया।

इस अवसर पर एसएमओ डॉक्टर सत्यपाल का कहना है कि हमारी गलत आदतों के कारण हम इस बीमारी की चपेट में आते हैं। 

शुगर हमारी दिनचर्या में आए बदलाव के कारण हमें परेशान करती है। इस लिए जरूरी है कि हम अपनी दिनचर्या में बदलाव लाएं। उन्होंने कहा कि लोगों ने मेहनत करने की बजाए आरामदायक जीवन को प्राथमिकता देनी शुरू कर दी है। 

यही कारण है कि शुगर के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। हमें इससे बचना होगा और शरीर को आलस से दूर करते हुए व्यायाम, सैर की ओर लेकर जाने के साथ ही खानपान की आदतों में भी सुधार करना होगा। 

इस अवसर पर डॉक्टर गौरव ने बताया कि लोगों को चाहिए कि वह शुगर का इलाज करवाने की बजाए पहले से ही जागरूकता होकर शुगर को ही ना होने दें। इस लिए हमारा फोक्स है लोगों को शुगर ना हो इसके लिए उन्हें तैयार किया जाए। जिसके लिए उन्हें अपनी दिनचर्या में बदलाव लाना होगा, खानपान में सुधार लाना होगा। 

लोगों को दौड़ धूप से पीछे नहीं हटना है, लगातार सैर करें, पसीना बहाएं, जंक फूड से दूरी बनाने का काम करें। वहीं अगर फिर भी कोई शुगर की चपेट में आ जाता है तो चिकित्सक से सलाह लेकर अपना इलाज शुरू करवाएं, इसे हल्के में ना लें। 

अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो यह जानलेवा हो सकता है या फिर अन्य बीमारियों का कारण बन सकता है। इस दौरान 123 लोगों की शुगर की जांच करने के साथ ही उनके रक्तचाप की जांच भी की गई।

इस अवसर पर नैंसी स्टाफ नर्स, सुनील खोखर, संजय कुमार व संजय सिंघला आदि मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments