15.1 C
New Delhi
Thursday, December 1, 2022
Homeअन्य राज्यबिहार नाइट ब्लड सर्वे में जिलेवासियों ने दिखाया उत्साह, तीन दिन में 6398...

 नाइट ब्लड सर्वे में जिलेवासियों ने दिखाया उत्साह, तीन दिन में 6398 सैंपल का संग्रह

भागलपुर, 24 नवंबर। राष्ट्रीय फाइलेरिया उन्मूलन के तहत जिले में नाइट ब्लड सर्वे का काम सोमवार से चल रहा है। जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ. दीनानाथ ने गोराडीह प्रखंड के कोढ़ा गांव के रेंडम साइट से इसकी शुरुआत की थी। अच्छी बात यह है कि जिलेवासियों ने भी इसमें उत्साह दिखाया है। पहले तीन दिन (सोमवार से बुधवार तक) में ही जिले के 6398 लोग सैंपल देने के लिए सामने आए। साथ ही नवगछिया और पीरपैंती में तो नाइट ब्लड सर्वे का काम पूरा भी हो गया।

डॉ. दीनानाथ कहते हैं कि नाइट ब्लड सर्वे को लेकर जिलेवासियों का उत्साह काफी सकारात्मक है। पहले तीन दिन में ही सैंपल देने के लिए इतनी बड़ी संख्या में लोगों के सामने आने से लग रहा है कि हमलोग जल्द ही लक्ष्य को हासिल कर पूरी रिपोर्ट सौंप देंगे।

केयर इंडिया के डीपीओ मानस नायक ने बताया कि सभी प्रखंड में दो-दो साइट बनाए गए हैं। एक सेंटिनल तो दूसरा रेंडम साइट। एक साइट पर नाइट ब्लड सर्वे के तहत 300 लोगों की जांच की जाएगी। नाइट ब्लड सर्वे शाम साढ़े आठ बजे से रात के 12 बजे तक किया जा रहा है। इस दौरान 20 साल से अधिक उम्र के लोगों के सैंपल लेकर जांच की जा रही है। इस काम में स्वास्थ्यकर्मियों के साथ-साथ स्थानीय जनप्रतिनिधि भी सहयोग कर रहे हैं।

डॉ. दीनानाथ ने बताया कि नाइट ब्लड सर्वे के तहत फाइलेरिया प्रभावित क्षेत्रों की पहचान कर वहां रात में लोगों के रक्त के नमूने लिये जाते हैं। इसे प्रयोगशाला भेजा जाता और रक्त में फाइलेरिया के परजीवी की मौजूदगी का पता लगाया जाता है। फाइलेरिया के परजीवी रात में ही सक्रिय होते हैं, इसलिए नाइट ब्लड सर्वे से सही रिपोर्ट पता चल पाता है। इससे फाइलेरिया के संभावित मरीज का समुचित इलाज किया जाता है।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments