17.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022
Homeअन्य राज्यउत्तर प्रदेश तर्रई गांव में बुखार का प्रकोप, एक किसान की मौत

 तर्रई गांव में बुखार का प्रकोप, एक किसान की मौत

औरैया, 14 नवम्बर। जिले के ब्लाक भाग्यनगर की ग्राम पंचायत तर्रई में एक सप्ताह से बुखार का प्रकोप फैला हुआ है। बुखार से गांव के पीड़ित एक किसान की कानपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई, जिससे ग्रामीणों में दहशत है। तमाम ग्रामीण बुखार से पीड़ित होकर झोला छाप डाक्टरों का सहारा लेकर इलाज करा रहे हैं। ग्रामीणों ने गांव में साफ-सफाई और फॉगिंग कराने की मांग की है।

ब्लाक भाग्यनगर की ग्राम पंचायत तर्रई के गांव तरई में एक सप्ताह से बुखार का प्रकोप फैला हुआ है। बुखार से पीड़ित गांव निवासी किसान सिद्ध नारायण अग्निहोत्री की अचानक हालत बिगड़ने पर परिजन उन्हें सौ शैया अस्पताल ले गए। जहां से उन्हें रविवार को कानपुर हैलट अस्पताल रेफर कर दिया गया। हैलट में देर रात उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

गांव निवासी श्रीकृष्ण, रामप्रकाश, ब्रजेश कुमारी, सपना, बीना देवी, अशोक कुमारी, माया देवी, रामप्रसाद समेत लगभग पचास से अधिक ग्रामीण बुखार से पीड़ित हैं और झोला छाप डाक्टरों से इलाज कराने को मजबूर हैं। ग्रामीणों ने बताया कि गांव में जगह-जगह गंदगी होने से मच्छर की तादाद बहुत बढ़ गई है।प्रधान और सचिव से कहने के बाद भी सफाई और फॉगिंग नहीं कराई गई, जिससे बुखार का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग भी आंखें बन्द किए बैठा है। ग्रामीणों ने स्वास्थ्य टीम भेजे जाने के साथ ही सफाई और फॉगिंग कराने की मांग की है।

मामले में सीएमओ का कहना है कि तर्रई गांव में बुखार की जानकारी मिली है, टीम भेजकर पीड़ित ग्रामीणों को उपचार कराया जाएगा।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments