26.1 C
New Delhi
Wednesday, September 28, 2022
Homeखेलफीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप रचनात्मक सांस्कृतिक बदलाव के लिए एक आदर्श...

फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप रचनात्मक सांस्कृतिक बदलाव के लिए एक आदर्श मंच होगा : बेमबेम देवी

नई दिल्ली, 8 सितंबर। भारतीय महिला फुटबॉल टीम की पूर्व मिडफील्डर ओइनम बेमबेम देवी बीते कई वर्षों से भारत में महिला फुटबॉल के विकास की सबसे प्रमुख पैरोकारों में से एक रही हैं और उन्होंने भारत में होने जा रहे फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप इंडिया 2022 को लेकर खुशी व्यक्त की है।

पद्मश्री से नवाजी जा चुकीं बेमबेम देवी ने टूर्नामेंट के बारे में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा, “मुझे बेहद खुशी है कि फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप के कारण भारत में महिला फुटबॉल को लेकर लोगों से इतनी सकारात्मक प्रतिक्रिया मिल रही है।”

बेमबेम देवी, जो अर्जुन अवार्डी भी हैं, ने भारत में महिला फुटबॉल को आयोजन के कारण होने वाले सांस्कृतिक बदलाव के बारे में भी बात की। बेमबेम ने कहा, “फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप ने माता-पिता को दिखाया है कि भारत में महिला फुटबॉल के लिए ऐसे भी अवसर हैं जिनको एक्सपलोर किया जा सकता है और यह टूर्नामेंट भारत में महिला फुटबॉल को लेकर सबका ध्यान आकर्षित करने का एक बेहद सटीक तरीका है।”

बेमबेम ने आगे कहा, “जब यह घोषणा की गई कि टूर्नामेंट भारत में आयोजित किया जाएगा, तो देश भर से महिला फुटबॉलरों के बहुत से माता-पिता ने फोन किया और पूछा कि उनकी बेटियां फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप में खेलने के लिए तैयार भारतीय टीम का हिस्सा कैसे बन सकती हैं या फिर उन्हें ट्रायल का मौका कैसे मिल सकता है।”

बेमबेम ने भारत में महिला फुटबॉल की क्षमता के बारे में बात करते हुए कहा, “इस विश्व कप का निश्चित रूप से भारत में महिला फुटबॉल पर बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा क्योंकि यह देश में महिला फुटबॉल के प्रति रचनात्मक सांस्कृतिक परिवर्तन लाने की दिशा में एकदम सटीक स्प्रिंगबोर्ड के रूप में कार्य करेगा। ।”

बेमबेम देवी, जिन्हें भारतीय फुटबॉल की दुर्गा के रूप में भी जाना जाता है, के पास प्रशंसकों और दर्शकों के लिए एक संदेश भी था। बेमबेम ने कहा, “मेरा सभी दर्शकों से एक अनुरोध है। सबके लिए मेरा बस यही संदेश है कि भारत पहली बार फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप की मेजबानी कर रहा है और ऐसे में खिलाड़ियों को अपने देशवासियों और फैंस के प्रोत्साहन और समर्थन की जरूरत होगी। अतः आप सब खिलाड़ियों को मैदान पर अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए प्रेरित करें। “

बेमबेम आगे बोलीं, “मैं सभी से मैच के लिए स्टेडियम आने का अनुरोध करती हूं ताकि इस विश्व कप में भाग लेने वाली युवा लड़कियों के सामने अपार समर्थन हो। हम खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करेंगे और टीम के लिए अपना अटूट समर्थन दिखाएंगे। मुझे यकीन है कि अगर हम खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते हैं तो वे मैचों में सौ प्रतिशत से अधिक देंगी।”

अंडर-17 भारतीय महिला टीम को ग्रुप-ए में मोरक्को, ब्राजील और संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए) के साथ रखा गया है। फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप तीन स्थानों- नवी मुंबई, गोवा और भुवनेश्वर में आयोजित किया जाएगा। भारतीय टीम अपने सभी मैच भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में खेलेगी।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments