26.1 C
New Delhi
Wednesday, September 28, 2022
Homeहरियाणाक्षमा का भाव हमारे जीवन में अभूतपूर्व परिवर्तन ला सकता है-राजीव जैन

क्षमा का भाव हमारे जीवन में अभूतपूर्व परिवर्तन ला सकता है-राजीव जैन

सोनीपत, 11 सितंबर। दशलक्षण धर्म एवं क्षमावाणी पर्व के अवसर पर प्राचीन दिगंबर जैन मंदिर बड़ा बाजार में रथयात्रा महोत्सव धूमधाम से मनाया गया। भगवान पार्श्वनाथ जी को रथ में विराजमान करके बैंड बाजों के साथ नगर भ्रमण करवाया गया।

रथयात्रा महोत्सव में पहुंचकर मुख्यमंत्री के पूर्व मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने उपस्थित श्रद्धालुओं को परंपरागत रथयात्रा महोत्सव की बधाई दी तथा समाज के लोगों से जाने अनजाने में हुई गलतियों के लिए क्षमा मांगते हुए कहा कि क्षमा का भाव हमारे जीवन में अभूतपूर्व परिवर्तन ला सकता है और हम शांत भाव से अपने पथ पर आगे बढ़ सकते हैं।

 पूर्व संध्या पर प्रसिद्ध आर्ट ग्रुप डी.पी कौशिक द्वारा भगवान महावीर के जीवन चरित्र पर आधारित भव्य नाटिका प्रस्तुत की जिसमें पहुंचकर पूर्व मंत्री कविता जैन ने दशलक्षण पर्व की बधाई दी। रथ यात्रा से पूर्व संयम शिरोमणि मनीषा जी महाराज एवं श्री मुक्ता जी महाराज द्वारा जैन धर्म की प्रभावना एवं क्षमावाणी पर्व के महत्व पर प्रवचन दिया। उन्होंने कहा कि जैन धर्म सबसे प्रमाणिक वैज्ञानिक धर्म है, जिस के सिद्धांतों पर चलने से कल्याण निश्चित है, शरीर को स्वस्थ रखने के लिए भी जैन धर्म के सिद्धांतों का पालन आवश्यक है

      रथ यात्रा का बाजारों में जगह-जगह स्वागत हुआ और समापन पर सामूहिक भोज का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में एस.के जैन एडवोकेट, शांता जैन, रमेश कुमार जैन वशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए तथा प्रधान हेमंत भूषण जैन, मंत्री मनीष जैन, अवनीश जैन, राजीव जैन, रजत जैन समेत अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments