26.1 C
New Delhi
Wednesday, September 28, 2022
Homeहरियाणाओल्ड हाउसिंग बोर्ड कालोनी में महिलाओं के साथ छेडख़ानी की शिकायत मिलने...

ओल्ड हाउसिंग बोर्ड कालोनी में महिलाओं के साथ छेडख़ानी की शिकायत मिलने पर मौके पर पहुंची पूर्व मंत्री कविता जैन

-बहन-बेटियों के साथ किसी भी प्रकार का दुव्र्यवहार व छेडख़ानी स्वीकार्य नहीं: कविता जैन


-पूर्व मंत्री कविता जैन ने एसएचओ को किया फोन, क्षेत्र में पुलिस की गशत बढ़ाने के दिए निर्देश


सोनीपत, 14 सितंबर।  ओल्ड हाउसिंग बोर्ड कालोनी में महिलाओं व लड़कियों के साथ छेडख़ानी की घटनाओं की सूचना मिलने पर पूर्व मंत्री कविता जैन तुरंत मौके पर पहुंची। उन्होंने क्षेत्र की महिलाओं से स्थिति की पूर्ण जानकारी लेते हुए भरोसा दिलाया कि इस प्रकार की घटनाओं पर फौरन लगाम लगवाई जाएगी। किसी को भी बहन-बेटियों के मान-सम्मान के साथ खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा।
          हरियाणा की पूर्व मंत्री कविता जैन ने महिलाओं-युवतियों के साथ होने वाली छेडख़ानी की घटनाओं पर तीखी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि बहन-बेटियों के साथ किसी भी प्रकार के दुव्र्यवहार व छेडख़ानी स्वीकार्य नहीं है। ऐसा करने वालों को कड़ा सबक सिखाया जाएगा ताकि वह ऐसी शर्मनाक हरकत की पुनरावृत्ति न करें। उन्होंने मौके पर ही संबंधित पुलिस थाना प्रबंधक सवित कुमार से फोन पर बात की, जिसके तुरंत बाद ए.एस.आई सुमन मौके पर पहुंची। उन्होंने निर्देश दिए कि इस क्षेत्र में पुलिस की गशत बढ़ाई जाए। विशेष रूप से मुरथल अड्डा वाले लड़कियों के स्कूल के पीछे वाले गेट पर स्कूल-कालेज की छुट्टी के समय पुलिस की व्यवस्था की जाए, ताकि आवारा किस्म के लडक़ों को गिरफ्त में लिया जाए।
           पूर्व मंत्री कविता जैन ने कहा कि बहन-बेटियों के मान-सम्मान की रक्षा करना उनका पहला दायित्व है, जिससे वे पीछे नहीं हटेंगी। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति का फर्ज बनता है कि वह समाज की हर बहन-बेटी के सम्मान की रक्षा करें। इसके लिए लोगों को असामाजिक तत्वों के खिलाफ आवाज बुलंद करनी होगी। इस प्रकार की गंदी हरकत करने वालों को रोका-टोका नहीं जाता, इस कारण उनके हौसले बढ़ते हैं। समाज के लोगों को आगे आकर ऐसी घटनाओं का विरोध करना चाहिए।
        पूर्व मंत्री कविता जैन ने कहा कि पुलिस अपना काम करेगी। किंतु हर समय हर स्थान पर पुलिस उपलब्ध नहीं हो सकती। ऐसे में समाज के युवाओं को विशेष रूप से असामाजिक तत्वों का विरोध करने के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने बहन-बेटियों को भी प्रोत्साहित किया कि वे आत्मरक्षा का प्रशिक्षण प्राप्त करें, ताकि वे ऐसे लोगों का विरोध कर सकें। इस दौरान पूर्व मंत्री ने आश्वस्त किया कि महिलाओं व लड़कियों के साथ छेडख़ानी की घटनाओं पर पूर्ण लगाम के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगी। पुलिस की ओर से हर संभव कदम उठाया जाएगा ताकि ऐसी घटनाओं पर रोक लगाई जा सके। इस अवसर पर सुदेश, नीलम, रिचा, अंजू, मंजू, सीमा, वर्ष, पूजा, दया, परी, आशा, जीतू, सोनू, विक्की, सुरेश, रमेश, गौरव,दीपक, सनी, राजू, टोनी गणमान्य व्यक्ति व महिलाएं उपस्थित रही।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments