22.1 C
New Delhi
Tuesday, December 6, 2022
Homeअन्य राज्यबिहार राष्ट्रीय फाइलेरिया दिवस पर जागरूकता संबंधी कई कार्यक्रम का आयोजन

 राष्ट्रीय फाइलेरिया दिवस पर जागरूकता संबंधी कई कार्यक्रम का आयोजन

अररिया 11 अक्टूबर राष्ट्रीय फाइलेरिया दिवस पर जिले में जागरूकता संबंधी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये। रानीगंज सीएचसी में जिले के दूसरे फाइलेरिया क्लिनिक का उद्घाटन किया गया। डीवीबीडीसीओ डॉ अजय कुमार सिंह ने बताया कि फारबिसगंज स्थित फाइलेरिया क्लिनिक सफलता पूर्वक संचालित है। दूसरे क्लिनिक का उद्घाटन रानीगंज में किया गया है। फाइलेरिया दिवस पर रोगियों की नि:शुल्क जांच करते हुए उन्हें जरूरी दवा उपलब्ध करायी गयी। हाईड्रोसिल के मरीजों का सफल ऑपरेशन किया गया। आगामी 14 नवंबर से इसे लेकर विशेष अभियान संचालित होने की जानकारी उन्होंने दी।

रानीगंज सीएचसी में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी संजय कुमार की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम के दौरान शुक्रवार को फाइलेरिया क्लिनिक का उद्घाटन किया गया। फाइलेरिया मरीजों के बीच एमएमडीपी किट का वितरण किया गया।

कार्यक्रम में सीएचसी प्रभारी संजय कुमार ने कहा कि रानीगंज में फाइलेरिया क्लिनिक शुरू होने से स्थानीय मरीजों को काफी सहुलियत होगी। उन्हें समय पर जरूरी चिकित्सीय परामर्श सहित दवाएं उपलब्ध होगी । क्लिनिक के माध्यम से रोग प्रभावित अंगों की देखरेख की तकनीक व इसके लिये सरकार द्वारा उपलब्ध कराये जा रहे एमएमडीपी किट सुलभता पूर्वक उपलब्ध हो सकेगा। सीएचसी प्रभारी ने कहा कि क्लिनिक का संचालन हर दिन किया जायेगा। मंगलवार व गुरुवार को हाइड्रोसिल मरीजों के ऑपरेशन के लिये अस्पताल में विशेष इंतजाम किये जायेंगे।

वीडीसीओ ललन कुमार ने कहा कि महज जागरूक होकर फाइलेरिया रोग से जुड़े चुनौती को काफी हद तक कम किया जा सकता है। मरीजों की सुविधा व सहुलियत को ध्यान में रख कर गठित पेसेंट सपोर्ट ग्रुप रोग के उचित प्रबंधन में मददगार साबित हो रहा है। जो रोग के प्रति लोगों मन में व्याप्त भ्रांति को दूर करने व उन्हें अपनी जिम्मेदारी व अधिकार का बोध कराने में सझम बना रहा है। सीफार के स्टेट कंसलटेंट अरनेंदु झा ने इस दौरान मरीजों को रोग प्रभावित अंगों के समुचित देखभाल की तनकीक से अवगत कराया।

राष्ट्रीय फाइलेरिया दिवस के मौके पर रानीगंज स्थित प्लस टू लालजी हाई स्कूल में विशेष छात्र संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में बड़ी संख्या में स्कूली छात्रों ने भाग लिया। इस दौरान वीडीसीओ ललन कुमार ने उन्हें फाइलेरिया रोग के कारण, इससे बचाव संबंधी उपाय के संबंध में समुचित जानकारी दी। स्टेट कंसलटेंट सीफार अरनेंदू झा ने बताया कि फाइलेरिया रोग पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर सरकार द्वारा हर साल सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम संचालित किया जाता है। इसमें डीईसी व अल्बेंडाजोल लोगों को नि:शुल्क उपलब्ध कराया जाता है। उन्होंने कहा कि लगातार पांच साल दवा सेवन से फाइलेरिया रोग का खतरा बहुत हद तक कम हो जाता है। रोग को नियंत्रित करने संबंधी उपायों में सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम की सफलता महत्वपूर्ण है।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments