30.1 C
New Delhi
Sunday, September 25, 2022
Homeअन्य राज्यउत्तर प्रदेशप्रतापगढ़ के 2296 बूथों पर पिलाया जायेगा पोलियो ड्राफ

प्रतापगढ़ के 2296 बूथों पर पिलाया जायेगा पोलियो ड्राफ

प्रतापगढ़, 13 सितम्बर। मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया की अध्यक्षता में मंगलवार को शाम कलेक्ट्रेट सभागार में को पल्स पोलियो एस0एन0आई0डी0 अभियान के सफल संचालन/क्रियान्वयन हेतु डिस्ट्रिक टास्क फोर्स की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में जिला सहायक प्रतिरक्षण अधिकारी डा0 महेश सिंह ने बताया कि 18 सितम्बर से प्रातः 8 बजे से अपरान्ह 4 बजे तक पल्स पोलियो का ड्राफ जनपद के 2296 बूथों पर पिलाया जायेगा। इस अवधि में 4 लाख 50 हजार 208 जीरो से 05 वर्ष तक के बच्चों को ड्राफ पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिये 1021 टीमों का गठन किया गया है तथा टीमों के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु 327 सुपरवाइजर एवं तहसील स्तर पर 44 टीमें लगायी गयी है। प्रभारी चिकित्साधिकारी सेक्टर प्रभारी के रूप में तैनात किये गये है। प्रभावी टीकारण हेतु 29 मोबाईल टीमों का गठन किया गया है। इस दौरान 966 अति संवेदनशील क्षेत्र चिन्हित किये गये है जहां पोलिया ड्राप पिलाने हेतु विशेष व्यवस्थायें की गयी है।

ए टीम 19 से 23 सितम्बर तक घर-घर अभियान चलाकर वैक्सीनेशन का कार्य करेगी, फिर छुटे हुये बच्चों का वैक्सीनेशन किया जायेगा। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि 17 सितम्बर को पल्स पोलियो अभियान के प्रति जागरूकता पैदा करने हेतु जनपद स्तर पर महिला चिकित्सालय से जन जागरूकता रैली निकाली जायेगी। साथ ही सभी विद्यालयों एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों पर जागरूकता रैली का आयोजन किया जायेगा।

मुख्य विकास अधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित किया कि विद्यालयों एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से जन जागरूकता रैली का आयोजन किया जिसके माध्यम से लोग अपने बच्चों को पल्स पोलियो बूथ डे के दिन बूथ पर अवश्य ले जाये।

उन्होंने सहायक जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया कि सभी ग्राम प्रधानों को निर्देशित करें कि ग्राम प्रधान अपने गांव स्थित पोलियो बूथ पर प्रातः 8 बजे उपस्थित रहकर पोलियो ड्राफ पिलाकर उद्घाटन करें तथा प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि अपने-अपने पीएचसी/सीएचसी अन्तर्गत जनप्रतिनिधियांं को आमंत्रित कर पोलियो बूथ का उद्घाटन करायें तथा कार्यक्रम को प्रभावी ढंग से संचालित करायें। माइक्रोप्लान को अभी तक अपडेट न किये जाने की शिकायत पर मुख्य विकास अधिकारी ने नाराजगी व्यक्त की तथा सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को सचेत किया कि माइक्रोप्लान को अपडेट करें तथा टीम के सभी सदस्यों के मोबाइल को अपडेट करते हुये मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय में प्रस्तुत करें। डीसी एनआरएलएम को निर्देशित किया कि स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को पल्स पोलियों जन जागरूकता कार्यक्रम में प्रतिभाग हेतु निर्देशित कर दिया जाये ताकि इस कार्यक्रम को एक जन अभियान के रूप में संचालित किया जाये।

बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी जीएम शुक्ला, प्राचार्य मेडिकल कालेज डा0 आर्य देश दीपक, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी आर0एस0 राम, डीपीएम राजशेखर, डब्लूएचओ की डा0 मोनिका एवं यूनीसेफ के वकील अहमद सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments