17.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022
Homeअंतर्राष्ट्रीयइंडोनेशिया में फुटबॉल मैच के दौरान भगदड़, 174 लोगों की मौत

इंडोनेशिया में फुटबॉल मैच के दौरान भगदड़, 174 लोगों की मौत

मलंग, 02 अक्टूबर। इंडोनेशिया के पूर्वी जावा प्रांत के मलंग शहर में शनिवार रात फुटबॉल मैच के दौरान संघर्ष और उसके बाद मची भगदड़ में मरने वालों की संख्या 129 से बढ़कर 174 हो गई है। मैच के बाद हुए विवाद को शांत कराने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े थे। इसके चलते प्रशंसकों के बीच भगदड़ मच गई और ज्यादातर लोगों की मौत कुचले जाने के कारण हुई है।

पूर्वी जावा प्रांत के पुलिस प्रमुख निको अफिंटा ने बताया कि अरेमा एफसी और पर्सेबाया सुराबाया के बीच मैच समाप्त होने के बाद हारने वाली टीम के समर्थकों ने मैदान पर हमला किया था, जिसके बाद पुलिस बल ने हालात को संभालने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े थे। इसके बाद मची भगदड़ और दम घुटने से बड़ी संख्या में लोगों की मौत हुई है।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि अपनी टीम की हार से निराश अरेमा के हजारों समर्थकों ने खिलाड़ियों और फुटबॉल अधिकारियों पर बोतलें तथा अन्य वस्तुएं फेंकीं। प्रशंसक कंजुरुहान स्टेडियम के मैदान पर उमड़ पड़े और उन्होंने अरेमा प्रबंधन से पूछा कि घरेलू मैचों में 23 वर्ष तक अजेय रहने के बाद टीम यह मैच कैसे हार गई।

स्टेडियम के बाहर भी हिंसा शुरू हो गई और दंगाइयों ने पुलिस के पांच वाहनों को फूंक दिया। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े, जिससे भगदड़ मच गई। फीफा ने फुटबॉल स्टेडियम में आंसू गैस के गोले छोड़ने पर प्रतिबंध लगा रखा है।

आंसू गैस से बचने के लिए सैकड़ों लोग निकास द्वार की ओर भागे, जिससे कुछ लोगों की दम घुटने और कुचलने से मौत हो गई। अराजकता की इस स्थिति में दो अधिकारियों समेत 34 लोगों की स्टेडियम में ही मौत हो गई। मृतकों में बच्चे भी शामिल हैं।

पूर्वी जावा के पुलिस प्रमुख निको अफिंता ने रविवार सुबह संवाददाता सम्मेलन में कहा, हमने प्रशंसकों के पुलिस पर हमला करने पर आंसू गैस के गोले दागने से पहले एहतियाती कार्वाई भी की थी। प्रशंसक वाहनों को फूंक रहे थे। 300 से अधिक लोगों को इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन कई लोगों ने रास्ते में और कई ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

पूर्वी जावा प्रांत के डिप्टी गवर्नर एमिल दरदक ने कोम्पास टीवी को रविवार को एक साक्षात्कार में बताया कि मृतकों की संख्या बढक़र 174 हो गई है, जबकि 100 से अधिक लोग घायल हुए हैं। घायलों में 11 की हालत गंभीर है।

इंडोनेशिया के फुटबॉल संघ पीएसएसआई ने इस हादसे को देखते हुए प्रीमियर फुटबॉल लीग लीगा-1 को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया है। उसने अरेमा को बाकी के सत्र के लिए फुटबॉल मैचों की मेजबानी करने से भी प्रतिबंधित कर दिया है। मलंग के स्थानीय पुलिस प्रमुख फेर्ली हिदायत ने बताया कि मैच के दौरान स्टेडियम में करीब 42,000 दर्शक मौजूद थे।

भगदड़ के बड़े हादसे

– 30 अप्रैल, 2021 : इजराइल में वार्षिक माउंट मेरोन तीर्थयात्रा में मची भगदड़ में 45 लोगों की मौत और दर्जनों घायल।

– 24 सितंबर, 2015 : सऊदी अरब में हज के दौरान भगदड़ में 2,411 हज यात्रियों की मौत।

– 27 जनवरी, 2013 : ब्राजील के सेंट मारिया में एक नाइट क्लब में आग लगने के बाद भगदड़ में 200 लोगों की मौत।

-22 नवंबर, 2010 : कंबोडिया की राजधानी नोमपेन्ह में एक उत्सव के दौरान भगदड़ में 340 से अधिक लोगों की मौत।

-12 जनवरी, 2006 : मक्का के पास हज यात्रा के दौरान भगदड़ से 345 लोगों की मौत।

– 31 अगस्त, 2005 : इराक के बगदाद में धार्मिक जुलूस के दौरान एक पुल की रेलिंग टूटने से कई लोग टिगरिस नदी में गिर गए। इस हादसे में कम से कम 640 लोगों मौत हो गई।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments