17.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022
Homeअन्य राज्यउत्तर प्रदेशतमिलनाडु के तीर्थयात्रियों को खूब भा रही काशी की बदलती तस्वीर

तमिलनाडु के तीर्थयात्रियों को खूब भा रही काशी की बदलती तस्वीर

वाराणसी,18 नवम्बर। काशी तमिल संगमम में भागीदारी करने आ रहे तमिलनाडु के लोगों को काशी की बदलती तस्वीर भाने लगी है। तीर्थयात्री इस बात को स्वीकार कर रहे हैं कि पहले की काशी और आज की नई काशी में काफी बदलाव है। वे अब योगी आदित्यनाथ जैसा मुख्यमंत्री अपने प्रदेश में भी चाहने लगे हैं। उनका कहना है कि हमारे प्रदेश को भी योगी आदित्यनाथ जैसा मुख्यमंत्री चाहिए जो धार्मिक विकास के साथ प्रदेश का चौतरफा विकास कर सके।

काशी तमिल संगमम् में शामिल होने तमिलनाडु से आई अन्नपूर्णीनी ने बताया कि काशी विश्वनाथ की नगरी की आध्यात्मिकता और धार्मिकता के चलते हम लोग हजारों किलोमीटर दूर से दर्शन के लिए आते हैं। अब काशी साफ़ सुथरी हो गई है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने काशी को बहुत अच्छा बना दिया है। अन्नपूर्णीनी ने कहा हम लोग काशी विश्वनाथ से प्रार्थना किए हैं कि जैसा मुख्यमंत्री आप लोगों को मिला है वैसा ही तमिलनाडु को मिलना चाहिए।

—नई काशी की ख्याति पूरे विश्व में फ़ैलने लगी

काशी में रहने वाले तमिलनाडु के चंद्रशेखर द्रविण ने बताया कि जब से नरेन्द्र मोदी वाराणसी के सांसद और योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के सीएम हुए हैं, नई काशी की ख्याति पूरे विश्व में फ़ैलने लगी है। पीएम मोदी के मार्गदर्शन और योगी जी के नेतृत्व में काशी का चौतरफा विकास हुआ है।

उन्होंने बताया कि उनके यहां तमिलनाडु से बनारस आने वाले श्रद्धालु काशी को काफी सराहते हैं। बताते है कि योगी जैसा मुख्यमंत्री मिलना उत्तर प्रदेश के लिए गर्व की बात है, जो धर्म के संरक्षण के साथ ही विकास के काम भी बेहतरीन ढंग से अंजाम दे रहे हैं। सिर्फ काशी ही नहीं पूरे प्रदेश की छवि उन्होंने बदल के रख दी है। पहले दक्षिण भारत में यूपी गुंडों-बदमाशों के लिए बदनाम था, मगर आज यूपी के विकास की चर्चा हो रही है, राम मंदिर, काशी विश्वनाथ मंदिर, कुंभ मेला, दीपोत्सव और देव दीपावली की चर्चा होती है।

—काशी तमिल संगमम् से हमारे आपसी संबंधों में नयी ताजगी आएगी

पांच पीढ़ी से काशी में रह रहे और श्री काशी विश्वनाथ न्यास के सदस्य के. वेंकट रमन घनपाठी ने बताया कि तमिलनाडु से आने वाले लगभग सभी श्रद्धालु बाबा के मंदिर में आते हैं और काशी समेत उत्तर प्रदेश के विकास से काफी प्रभावित होते हैं। तमिलनाडु के ही कृष्ण कुमार ने बताया कि वे 10 साल बाद काशी आ रहे हैं। मोदी-योगी का विकास देखकर ख़ुशी हुई है। गंगा पहले से काफी साफ़ सुथरी हुई हैं। घाट भी खूबसूरत हो गये हैं। उन्होंने कहा कि काशी तमिल संगमम् से हमारे आपसी संबंधों में नयी ताजगी आएगी, जिससे और ज्यादा पर्यटक काशी आएंगे।

—काशी आज देशभर में विकास के मॉडल के रूप में पहचानी जा रही

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के एम्फीथियेटर मैदान में एक महीने तक चलने वाले ‘काशी तमिल संगमम्’ में तमिलनाडु से करीब 2500 लोग शामिल होंगे। गौरतलब हो कि धर्म और अध्यात्म की राजधानी काशी आज देशभर में विकास के मॉडल के रूप में पहचानी जा रही है। यहां गंगा घाट, विश्वनाथ धाम से लेकर सड़क तक हर जगह विकास साफ दिख रहा है। तमिलनाडु के यात्री बनारस में आयोजित काशी तमिल संगमम् की सराहना कर रहे हैं। उनका कहना है कि मोदी-योगी देशभर की जनता के दिलों में उतर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments