15.1 C
New Delhi
Thursday, December 1, 2022
Homeअन्य राज्यबिहारकानून का राज कायम रखना सरकार का दायित्व : नीतीश

कानून का राज कायम रखना सरकार का दायित्व : नीतीश

-अब बिहार के पुलिस बल में महिलाएं 27 से 28 प्रतिशत तक हो जाएंगी

पटना, 16 नवम्बर। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को नवनियुक्त 10,459 पुलिस पदाधिकारियों-कर्मियों के नियुक्ति पत्र दिया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि कानून का राज कायम रखना सरकार का दायित्व है। पहले बिहार में सिर्फ 42 हजार 481 पुलिसकर्मी थे। जबसे हमें काम करने का मौका मिला है, अपराध नियंत्रण को ध्यान में रखते हुए हमने शुरू से ही पुलिस की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया है।

नीतीश ने कहा कि विधि व्यवस्था को कायम रखने के लिए पहले हमने आर्मी से रिटायर्ड जवानों को ‘सैप’ (स्पेशल ऑग्जिलियरी पुलिस) में बहाल कराया । हमने कहा है कि उनको भी कायम रखिये और ये साठ साल बाद ही रिटायर होंगे। सीएम ने कहा कि हमने देखा कि वर्ष 2010 में देश में एक लाख की आबादी पर 115 पुलिसकर्मी थे, बिहार में यह संख्या कम थी। उसके अनुसार 1 लाख 52 हजार 232 और पुलिसकर्मियों की आवश्यकता थी ।

हमने गृह विभाग की हर बैठक में कहा कि बहाली के काम में तेजी लाकर पुलिसकर्मियों की नियुक्ति करें जिसके बाद बिहार में अब तक 1 लाख 8 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों की बहाली हो चुकी है। 1 लाख 52 हजार 232 पदों में से अभी भी 44 हजार पुलिसकर्मियों की बहाली होनी है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि इसमें देर न करें यथाशीघ्र बहाली कराएं । यह काम पूरा हो जाएगा तो हमें बेहद खुशी होगी ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज 10 हजार 459 पदों पर लोगों की नियुक्ति की गयी है, जिनमें 215 सार्जेंट, 1,998 सब इंस्पेक्टर एवं 8,246 सिपाही शामिल हैं। सभी नवनियुक्त अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया जा रहा है। आपने बहुत अच्छा काम किया है, इसके लिए मैं गृह विभाग को बधाई देता हूं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2007 में हमने पुलिस के दायित्व को दो हिस्से में बांट दिया था। एक हिस्से को लॉ एंड ऑर्डर का काम जबकि दूसरे हिस्से को अनुसंधान का काम सौंपा गया था ताकि अपराध पर नियंत्रण के साथ – साथ अनुसंधान के काम में भी तेजी आये। अब अनुसंधान का काम भी ठीक ढंग से आगे बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि एससी/एसटी सतर्कता अनुश्रवण समिति की बैठक में हमने तय कर दिया है कि केस की जांच 90 दिनों की बजाय अब 60 दिनों के अंदर ही की जाय ताकि दोषियों को समय पर सजा मिल सके। क्राइम को कंट्रोल करने के लिये दोषियों पर त्वरित कार्रवाई जरूरी है। इसके अलावा पुलिस की गश्ती काफी जरूरी है। रात्रि में और अहले सुबह निरंतर गश्ती होने से अपराध पर नियंत्रण रहेगा ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम लोगों ने आपातकालीन सेवा के लिए डायल 112 शुरू कराया है। इस कॉल सेंटर पर अपराध, आगजनी, वाहन दुर्घटना एवं बीमार व्यक्ति से संबंधित सूचनाएं तत्काल दर्ज कराई जा सकती हैं। उस पर तेजी से एक्शन लिया जाता है। कॉल सेंटर बहुत ही अच्छे ढंग से काम कर रहा है। कॉल सेंटर में पुरुषों एवं महिलाओं की बराबर संख्या में प्रतिनियुक्ति की गयी है।

उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मियों की बहाली के साथ ही प्रशिक्षण का काम भी समय सीमा के अन्दर पूरा हो । हर थाने में महिला पुलिस पदाधिकारी एवं कर्मियों को भी पदस्थापित रखें। आपसी झगड़ों को खत्म कर समाज में सद्भाव कायम रखने के लिए हर प्रकार से काम किया जा रहा है। थाना भवनों का बेहतर तरीके से निर्माण कराया गया है, उसे मेंटेन रखें । भवनों के निर्माण के साथ ही उनके मेंटेनेंस भी जरूरी हैं।

नवनियुक्त पुलिसकर्मियों से आह्वान करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आपलोग अपना काम ठीक ढंग से कीजियेगा, मुझे खुशी होगी। आज आपने जो शपथ ली है उसे भूलियेगा मत। शराब का सेवन खुद कभी नहीं करियेगा और न ही दूसरों को करने दीजियेगा। इससे समाज में काफी बेहतरी आएगी। समाज में कुछ लोग गड़बड़ करने वाले होते हैं । 90 प्रतिशत लोग ठीक हैं, शेष 10 प्रतिशत लोगों को भी ठीक करने का प्रयास करते रहना है ।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments