23.1 C
New Delhi
Friday, October 7, 2022
Homeराष्ट्रीयन उम्र की सीमा होः लालू को सजा सुनाने वाले 64 वर्षीय...

न उम्र की सीमा होः लालू को सजा सुनाने वाले 64 वर्षीय जज साहब को हुआ प्यार, भाजपा नेत्री से रचाई शादी

रांची, 5 सितंबर। चारा घोटाला मामले में लालू प्रसाद यादव को सजा सुनाने वाले जज शिवपाल सिंह एकबार फिर सुर्खियों में हैं। रिटायरमेंट की उम्र में उन्होंने अपने एक फैसले से सभी को चौंकाया है। 64 वर्षीय जज शिवपाल सिंह इस बार खुद प्यार की गिरफ्त में आ गये। उन्होंने सेवानिवृत होने से छह माह पूर्व आपसी और पारिवारिक रजामंदी के बाद दुमका के बासुकीनाथ धाम में अधिवक्ता व भाजपा नेत्री से शादी रचाई है।

बार और बेंच में प्यार का अनोखा उदाहरण

जानकारी के मुताबिक नूतन तिवारी (50 ) की पूर्व में शादी हुई थी लेकिन उनके पति का असमय निधन हो गया था। उनका एक बच्चा भी है। वहीं, जज शिवपाल सिंह उत्तर प्रदेश के जालौर जिला के शेखपुर खुर्द गांव के रहने वाले हैं। 2006 में उनकी पत्नी का निधन हो गया, उनका एक पुत्र व पुत्री है। इसी बीच जज शिवपाल सिंह को गोड्डा कोर्ट में ही प्रैक्टिस करने वाली नूतन तिवारी से प्यार हो गया है। उन्होंने वकील नूतन तिवारी से शादी रचा ली है।

बताया जाता है कि जज शिवपाल सिंह अपने कैरियर में कई महत्वपूर्ण फैसले सुना चुके हैं, लेकिन अपने प्यार को लेकर उन्हें 64 साल की उम्र में फैसला करना पड़ा। दोनों ने हिंदू रीति-रिवाज से शादी की है। जज शिवपाल सिंह ने इसे दो लोगों का निजी फैसला बताया है। दोनों अपने फैसले से खुश हैं।

नूतन तिवारी से शिवपाल की नजदीकी उसी वक्त हुई जब शिवपाल सिंह सीबीआई की विशेष अदालत के जज थे। जज शिवपाल सिंह और वकील नूतन तिवारी की मुलाकात गोड्डा कोर्ट परिसर में ही हुई थी। दोनों के बीच जान-पहचान बढ़ी और फिर नजदीकियां इस कदर बढ़ी कि जज साहब ने महिला वकील के साथ ही आगे की जिंदगी गुजारने का फैसला कर लिया। 64 साल की उम्र में उन्होंने 50 साल की नूतन तिवारी से शादी कर ली।

इस संबंध में पूछे जाने पर नूतन तिवारी ने कहा कि अगले छह माह में शिवपाल सिंह प्रथम एडीजे गोड्डा रिटायर होने वाले हैं। इसके बाद दोनों मिलकर समाजसेवा का कार्य करेंगे। इधर गोड्डा में इन दोनों की शादी की चर्चा खूब हो रही है।

उल्लेखनीय है कि चारा घोटाला मामले से जुड़े देवघर ट्रेजरी से अवैध निकासी केस की सुनवाई जज शिवपाल सिंह ने ही की थी। जज शिवपाल सिंह उस वक्त सीबीआई की विशेष अदालत के जज थे। सुनवाई के दौरान लालू यादव और जज शिवपाल सिंह के बीच कोर्ट में उस वक्त हुई बातचीत सुर्खियां बनी थीं।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments