15.1 C
New Delhi
Thursday, December 1, 2022
Homeहरियाणागन्नौर में जिला परिषद के चार वार्ड व पंचायत समिति के लिए...

गन्नौर में जिला परिषद के चार वार्ड व पंचायत समिति के लिए 29 वार्डों के लिए 148 बूथों पर मतदाताओं ने डाले वोट

मतदान के लिए लाईनों में लगी मतदाताओं की लंबी लाईन।

गन्नौर। बुधवार को जिला परिषद के पार्षद और ब्लॉक समिति सदस्यों के चुनाव के तहत निर्धारित प्रक्रिया के अनुरूप सुबह सात बजे मतदान आरंभ हुआ। 53 पंचायतों के 148 बूथों पर गन्नौर क्षेत्र में जिला परिषद के चार वार्ड 12, 13, 14, 15 के लिए मतदाताओं ने वोट डाले। जब कि पंचायत समिति के लिए 29 वार्डों के लिए मतदाताओं ने वोट डाले। गन्नौर में 1 लाख 12 176 मतदाता थे। जिनमें पुरूष मतदाता 61 हजार 184 व महिला मतदाता 50 हजार 985 मतदाता थे। उनमें से दोपहर तक कुल 51110 मतदाताओं ने वोट डाले, दोपहर तक 45.6 प्रतिशत हुआ। उसके बाद 4 बजे के करीब 57646 मतदाताओं ने वोट डाले और 51.4 प्रतिशत मतदान हुआ। शाम को 6 बजे के करीब 69210 मतदाताओं ने मतदान किया। मतदान 61.7 प्रतिशत हुआ। इसके बाद इसके अलावा गन्नौर में अतिसंवेदनशील 29 व संवेदनशील 38 बूथों पर भी शांतिपूर्वक मतदान हुआ। चल रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह के समय कम मतदाता पहुंचे सुबह आठ बजे के बाद इसमें तेजी देखी गई। चुनावी प्रक्रिया में महिलाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। वे स्वयं चुनाव मैदान में उतरने के साथ मतदाता से लेकर बूथ मैनेजमेंट का जिम्मा संभालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। सभी जगह सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। कई केंद्रों पर पुलिस प्रशासन के उच्चाधिकारियों ने भी दौरा किया।

मतदान कम होता देख सर्मथकों व सरपंच प्रत्याशियों से की वोट डलवाने की अपील
जिला परिषद एवं ब्लॉक समिति सदस्यों के लिए मतदान में मतदाताओं ने जब कम रुचि दिखाई। मतदान शुरूआत में धीमा रहा, जिसके बाद जिला परिषद सरपंच प्रत्याशियों की ओर से अपने समर्थकों व सरपंच पद के उम्मीदवारों से अपील की गई, उसके बाद मतदान ने कुछ रफ्तार पकड़ी। यही नहीं समर्थकों ने लोगों को मतदान केंद्र तक ले जाने के लिए कुछ बूथों पर वाहनों की भी व्यवस्था की।

-मतदान केन्द्रों के बाहर समर्थक हाथ जोड़कर वोट की अपील करते नजर आए
मतदान केंद्रों के बाहर भी जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्यों के समर्थक डटे रहे। साथ ही मतदाताओं से हाथ जोड़कर अपने प्रत्याशियों को वोट देने की अपील करते रहे। वही कुछ समर्थक अपने प्रत्याशी के चुनाव चिन्ह मतदाताओं को दिखाने के लिए उनके आसपास घुमते नजरए आए।

ईवीएम में बंद हुआ प्रत्याशियों का चुनावी भाग्य
जिला परिषद व ब्लाक समिति के चुनाव के बाद जिला परिषद व ब्लाक समिति के प्रत्याशियों का चुनावी भाग्य ईवीएम में बंद हो गया है। चुनाव समाप्त होने के बाद सभी प्रत्यशी अपने- अपने कार्यालय पर आकर अपने पक्ष में मतदान का समीकरण निकालने में लग गए। वहीं उनके सर्मथकों ने भी अपने अपने मतदान की प्रत्याशी को रिर्पोट बताई।

लोकतंत्र के महापर्व मतदान में मतदाताओं ने उत्साहपूर्वक हिस्सा लिया।
— युवाओं के साथ महिलाओं और बुजुर्गों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। उम्र के आखिरी पड़ाव में जहां वृद्घ मतदाताओं व बीमार का उत्साह देखने लायक था। तेवड़ी के 80 वर्षीय सूबे सिंह ने जोश भरे स्वर में कहा कि प्रजातंत्र में वोट का अत्यधिक महत्व होता है। राजपुर गांव की बीमार मतदाता कविता ने कहा कि लोकतंत्र के मतदान रूपी उत्सव में हिस्सा लेना गौरव की बात है। वे बीमार होने के बाद भी मतदान करने परिजनों के साथ पहुंची है।  सभी मतदाताओं को अपने मत का प्रयोग करना चाहिए।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments